India

भगवतसिंहपुरा में दहेज मुक्त विवाह की अनूठी पहल: दहेज में एक रुपए और नारियल लेकर की शादी, दहेज मुक्त विवाह को दिया बढ़ावा

Spread the love

Vinod Tatiwal | Lallanpost.Com

देश में आए दिन दहेज के नाम पर बहू को प्रताड़ित करने, मारने-पीटने और दहेज नही देने के कारण हत्या के मामले सामने आ रहे हैं। वहीं कुछ लोग दहेज न लेकर दहेज मुक्त विवाह को बढ़ावा दे रहे हैं। ऐसा ही एक मामला भगवतसिंहपुरा गांव में देखने को मिला है, जिसमें वर पक्ष की ओर से दहेज प्रथा को समाप्त करने की पहल कर समाज में एक नई मिसाल पेश की है।

झोड़िंडा भोजपुरा, फागी, जयपुर निवासी सुरेश कुमार के पुत्र इंजीनियर वैभव की शादी भगवतसिंहपुरा, झाग, मौजमाबाद, जयपुर निवासी रामजीलाल बैरवा की पुत्री निशा के साथ तय हुई थी, जिसमें दूल्हे व दूल्हे के पिता ने दहेज लेने से मना कर दिया। दोनों परिवारों ने मिलकर इस प्रस्ताव को स्वीकार कर समाज में व्याप्त कुरीतियों को मिटाने का संदेश देकर एक नई मिसाल पेश की है। शादी की रस्मों के दौरान जब दुल्हन को उपहार के रूप में दहेज देना था तब दूल्हे इंजीनियर वैभव के पिता सुरेश कुमार ने शगुन के रूप एक रुपए और नारियल लेकर की शादी, दहेज मुक्त विवाह को दिया बढ़ावा दिया।

दूल्हे के पिता ने बताया कि वर्तमान समय में दहेज देने की होड़ से मची हुई है। इस होड़ में लड़की का पिता यदि गरीब हैं तो उसको उधार लेकर दहेज देना पड़ता और वह इस उधारी से जिंदगी भर मुक्त नही हो पाता । इसलिए समाज में दहेज रूपी कुरीति को खत्म करने एवं समाज को नया संदेश देने के लिए उन्होंने अपने बेटे की शादी में दहेज नही लेकर समाज को एक नया संदेश देने का प्रयास किया हैँ।

विनोद राजस्थान बेस्ड फ्रीलान्स पत्रकार हैं आप उनसे (@Vinod_Tatiwal) पर संपर्क कर सकते हैं.

Related Posts

आखिर कौन हैं कोडिंग मास्टर मुस्कान अग्रवाल? जिन्हें मिला है 60 लाख रूपये सालाना की जॉब का प्रस्ताव।

मुस्कान अग्रवाल भारत की सबसे शानदार महिला कोडर हैं। उनको  लिंक्डइन से सालाना 60

1 of 13

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *